Asia Cup में जगह बनाने के लिए इन खिलाड़ियों को करना होगा कमाल, वरना बाहर जाना तय

Asia Cup

Asia Cup में जगह बनाने के लिए इन खिलाड़ियों को करना होगा कमाल, वरना बाहर जाना तय

एशिया कप (Asia Cup) की तारीखों का ऐलान होते ही एक अलग ही चर्चा तेज हो चुकी है जहां इस महीने के आखिर में एशिया कप 2022 की शुरुआत की जाएगी जिसमें अपनी जगह बनाने के लिए सभी खिलाड़ी एड़ी चोटी का जोर लगाने में जुट चुके हैं. ऐसे में टीम इंडिया के पास भी कई ऐसे खिलाड़ी है जिनके लिए अगर एशिया कप (Asia Cup) में जगह बनाना है तो फिर उन्हें कमाल दिखाना होगा वरना वह एशिया कप से बाहर हो सकते हैं. इन खिलाड़ियों में टीम इंडिया के 3 ऐसे खिलाड़ियों का नाम शामिल है जो इस वक्त खराब प्रदर्शन से जूझ रहे हैं.

श्रेयस अय्यर के पास आखिरी मौका

Shreyas Iyer

अगर एशिया कप (Asia Cup) के लिए टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की करनी है तो श्रेयस अय्यर के पास बेहद ही सुनहरा मौका है कि वह वेस्टइंडीज और भारत के बीच चल रहे पांच मैचों की टी-20 सीरीज के बाकी बचे दोनों मुकाबले में अपने बल्ले से खूब कमाल दिखाएं तभी जाकर उनके लिए कुछ संभव हो सकता है. अभी तक देखा जाए तो श्रेयस अय्यर ने अपने प्रदर्शन से हर किसी को निराश किया है. इस सीरीज में अभी तक 3 मैचों में उनके बल्ले से केवल 34 रन बने हैं. ऐसे में उनकी जगह लेने के लिए कई खिलाड़ी तैयार बैठे हैं.

Asia Cup पर है रविचंद्रन अश्विन की नजर

ravichandran ashwin 1

रविचंद्रन अश्विन एक ऐसे खिलाड़ी माने जाते हैं जो तजुर्बे के साथ- साथ मैदान पर संयम और धैर्य के साथ गेंदबाजी करते हैं लेकिन महीनों बाद उन्होंने टी- 20 टीम में वापसी की है जो इस वक्त एशिया कप 2022 में टीम इंडिया में अपनी जगह बनाने के लिए पूरी कोशिश में जुटे हुए हैं लेकिन उनके प्रदर्शन को देखकर ऐसा मुश्किल नजर आ रहा है. अभी तक भारत और वेस्टइंडीज के बीच हुए तीनों टी-20 मैचों में रविचंद्रन अश्विन केवल 3 विकेट हासिल कर पाए हैं. ऐसे में उनके लिए भी यह एक बहुत बड़ा चैलेंज साबित होगा कि वह शानदार प्रदर्शन करके एशिया कप (Asia Cup) के लिए टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की करें.

दीपक हुड्डा को नहीं मिला मौका

deepak t20

अपने बल्ले से कई मैचों में शानदार प्रदर्शन करने के बाद भी दीपक हुड्डा को कई मैचों में नजरअंदाज किया गया है. इसके बावजूद भी दीपक हुड्डा एशिया कप (Asia Cup) के लिए बहुत बड़े दावेदार माने जा रहे हैं लेकिन अपने दावेदारी को और मजबूत करने के लिए दीपक हुड्डा को बाकी के बचे दो टी-20 मुकाबले में अपने बल्ले से कमाल दिखाना होगा तभी उनके लिए कुछ संभव हो सकता है.

यह भी पढ़ें- Rohit Sharma ने तोड़ा विराट कोहली का रिकॉर्ड, सबसे ज्यादा छक्का लगाने वाले खिलाड़ी बने

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *