IND vs ZIM: दीपक चाहर ने 6 महीने बाद किया कमबैक, आते ही बने प्लेयर ऑफ द मैच

IND vs ZIM

IND vs ZIM: दीपक चाहर ने 6 महीने बाद किया कमबैक, आते ही बने प्लेयर ऑफ द मैच

भारत और जिंबाब्वे (IND vs ZIM) के बीच हुए पहले वनडे मुकाबले में टीम इंडिया के खिलाड़ियों ने जिंबाब्वे को हराते हुए एकतरफा मुकाबले से कब्जा कर लिया जहां इस जीत के सबसे बड़े हीरो रहे दीपक चाहर जिन्होंने कई महीने बाद टीम इंडिया में वापसी की है और आते ही उन्होंने तहलका मचाना शुरू कर दिया जहां उनके शानदार प्रदर्शन के लिए दीपक चाहर को प्लेयर ऑफ द मैच भी चुना गया. इस मैच (IND vs ZIM) में उन्होंने जिंबाब्वे के तीन बड़े खिलाड़ी को आउट करके टीम इंडिया के लिए जीत के रास्ते खोल दिए थे.

जिंबाब्वे के खिलाफ किया कमाल

deepak 1

आपको बता दें कि फरवरी के बाद दीपक चहर भारत और जिंबाब्वे (IND vs ZIM) के बीच होने वाले वनडे मैच के तौर पर अपना पहला मुकाबला खेल रहे हैं जिन्होंने 27 रन देकर तीन विकेट हासिल किए. यह उनकी बेस्ट गेंदबाजी मानी जा रही है जहां अभी तक 8 मैचों में वह कुल 13 विकेट ले चुके हैं. इसी के साथ खेल केएल राहुल की कप्तानी में टीम इंडिया की यह पहली जीत है. इससे पहले केएल राहुल एक टेस्ट और तीन वनडे में टीम इंडिया की कमान संभाल चुके हैं लेकिन अभी तक इससे पहले टीम इंडिया को किसी भी मुकाबले में जीत हासिल नहीं हुई थी.

IND vs ZIM मुकाबले में बने प्लेयर ऑफ द मैच

deepak chahar 2

भारत और जिंबाब्वे (IND vs ZIM) के बीच हुए पहले वनडे मुकाबले में दीपक चाहर के प्रदर्शन पर उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच से भी नवाजा गया. दरअसल इस साल के अंत में टी-20 वर्ल्ड कप खेला जाना है जिसके लिए सभी खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन करके वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया में अपनी जगह बनाने में जुटे हुए हैं जहां इस बारे में दीपक चाहर ने बताया कि मैं यह नहीं तय कर सकता कि मुझे चुना जाएगा या नहीं क्योंकि यह मेरे हाथ में नहीं है लेकिन कौशल की बात करें तो मैंने कड़ी मेहनत की है.

दीपक चाहर ने पहले ही कर दिया था ऐलान

chahar

भारत और जिंबाब्वे (IND vs ZIM) के बीच चल रही तीन मैचों की वनडे सीरीज के लिए दीपक चाहर ने अपनी वापसी का पहले ही ऐलान कर दिया था जिन्होंने बताया था कि मुझे पता था कि सीरीज (IND vs ZIM) से मैं वापसी करूंगा जो एक दिवसीय सीरीज है. इसलिए मैंने अपने शरीर पर उसी के अनुसार बोझ डालना शुरू कर दिया जिस दिन गेंदबाज़ी शुरू कि उस दिन मैंने 6 ओवर फेंके और फिर जब मैंने दो तीन अभ्यास मैच खेले तो मैंने पूरे 10 ओवर की गेंदबाजी की.

कहीं ना कहीं उन्हें पता चल गया था कि जिंबाब्वे में एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला में वापसी करने का मौका मिलेगा जिस वजह से वह अपने शरीर को इस अनुरूप तैयार कर रहे थे.

यह भी पढ़ें- World Cup से पहले टीम इंडिया को सता रहा डर, ऋषभ पंत ने किया खुलासा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *