फूट-फूट कर रोई Harmanpreet Kaur, झूलन गोस्वामी के विदाई पर ऐसा रहा माहौल

Harmanpreet Kaur

फूट-फूट कर रोई Harmanpreet Kaur, झूलन गोस्वामी के विदाई पर ऐसा रहा माहौल

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) अपने आप को पूरी तरह से तब नहीं संभाल पाई जब आखिर में वह पल आया जब उन्हें अपनी साथी खिलाड़ी को अलविदा कहना था और वह कोई और नहीं टीम इंडिया की तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी थी जिन्होंने 24 सितंबर को इंग्लैंड के खिलाफ अपना आखिरी इंटरनेशनल मैच खेला. इस मैच के माध्यम से उन्हें विदाई दी गई जिस दौरान हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) पूरी तरह से भावुक नजर आई.

फूट- फूट कर रोई Harmanpreet Kaur

बतौर खिलाड़ी यह किसी के लिए भी मुश्किल होता है अपने साथियों का अचानक से इस तरह साथ छूट जाना जिसने लगभग कई दशकों तक आपके साथ क्रिकेट खेला है. झूलन गोस्वामी ने अपनी आंखों के सामने ही भारतीय महिला क्रिकेट टीम को फलते फूलते देखा है. 19 साल की उम्र में क्रिकेट में अपना सब कुछ झोंक देने के इरादे से उतरी झूलन गोस्वामी ने 20 साल तक देश में महिला क्रिकेट के वजूद को बनाया और फिर ऊंचाइयों पर पहुंचाया. इतना ही नहीं हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) की जिंदगी में भी झूलन गोस्वामी का काफी प्रभाव रहा है तभी तो हर मन की आंखें पूरी तरह से डबडबा गई.

यह भी पढ़ें- लाइव आकर MS Dhoni बता गए वर्ल्ड कप जीतने का फार्मूला, कुछ सीखें टीम इंडिया

झूलन ने 20 साल के लंबे करियर को कहा अलविदा

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की दिग्गज गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने इंग्लैंड के खिलाफ अपने करियर का आखिरी मैच खेला जहां एक तरफ भारतीय महिला क्रिकेट टीम इंग्लैंड को 3-0 से क्लीन स्वीप करने का जश्न मना रही थी, वहीं दूसरी ओर झूलन गोस्वामी की विदाई उनकी खुशी पर भारी पड़ रही थी. इस मुकाबले में हरमनप्रीत कौर (Harmanpreet Kaur) ने टॉस के वक्त झूलन को सम्मान देते हुए उनसे ही टॉस की प्रक्रिया भी करवाई जहां इस मुकाबले में कई ऐसे दृश्य देखने को मिले जिस वजह से मैदान पर मौजूद दर्शक भी पूरी तरह से भावुक हो गए.

यह भी पढ़ें- अगर आज Team India जीती तो टूटेगा पाकिस्तान का ये वर्ल्ड रिकॉर्ड

शानदार रहा झूलन गोस्वामी का सफर

भारतीय महिला क्रिकेट टीम की तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 353 विकेट अपने नाम किए हैं जो महिलाओं में सबसे अधिक है. इसके अलावा महिला विश्व कप में सर्वाधिक 43 विकेट लेने का रिकॉर्ड भी झूलन गोस्वामी के नाम है. वहीं झूलन साल 2005 और 2017 में विश्व कप टीम का हिस्सा रही जहां टीम फाइनल पहुंचने में सफल रही थी.

यह भी पढ़ें- Virat Kohli अचानक फैंस पर भड़के, जाहिर किया अपना गुस्सा