ICC World Cup में सबसे तेज शतक बनाने वाले केविन ओब्रायन ने इंटरनेशनल क्रिकेट से लिया संन्यास

ICC World Cup

ICC World Cup में सबसे तेज शतक बनाने वाले केविन ओब्रायन ने इंटरनेशनल क्रिकेट से लिया संन्यास

इंटरनेशनल क्रिकेट में आयरलैंड के सबसे सफल बल्लेबाज केविन ओब्रायन ने आईसीसी वर्ल्ड कप (ICC World Cup) के दौरान ऐसा कमाल किया था कि आज हर तरफ उसकी चर्चा हो रही है. इतना ही नहीं आईसीसी वर्ल्ड कप (ICC World Cup) के इतिहास में सबसे तेज शतक लगाने वाले खिलाड़ियों में केविन ओब्रायन का नाम सबसे पहले आता है जिन्होंने आयरलैंड की तरफ से खेलते हुए तीन टेस्ट, 153 वनडे और 110 टी-20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं जहां अब उसने इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहने का फैसला लिया है.

सबसे तेज शतक बनाने का रिकॉर्ड

Kevin OBrien

आयरलैंड के खिलाड़ी ने इंग्लैंड के खिलाफ वनडे इंटरनेशनल मैच के साथ अपना डेब्यू किया था जहां पहले ही मैच में उन्होंने इंग्लैंड के एंड्रयू स्टार्स का विकेट लिया था. जब उन्होंने डेब्यू किया था तब वह नंबर आठ पर बल्लेबाजी करने आए थे जहां अपने पहले मैच में 48 गेंदों पर 35 रनों की पारी खेली थी. साल 2011 के आईसीसी वर्ल्ड कप (ICC World Cup) में ओब्रायन ने अपने करियर की सबसे यादगार और शानदार पारी खेली जिन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ आईसीसी वर्ल्ड कप (ICC World Cup) में महज 50 गेंदों पर सेंचुरी ठोकी थी.

यादगार रही ICC World Cup की पारी

Kevin

आयरलैंड के लिए केविन ओब्रायन ने कई मैच खेले लेकिन इंग्लैंड के खिलाफ साल 2011 में आईसीसी वर्ल्ड कप (ICC World Cup) में जो हुआ वो मुकाबला उनके जीवन का यादगार मुकाबला रहा जिन्होंने न केवल उस मुकाबले में इंग्लैंड को हराया बल्कि अपने नाम भी कई ऐसी उपलब्धियां दर्ज की जिसे पूरे जीवन वह अपने साथ संजो के रख सकते हैं.

उस मैच में इंग्लैंड ने आयरलैंड के सामने जीत के लिए 328 रनों का लक्ष्य रखा जिसे आयरलैंड ने 49.1 ओवर में सात विकेट गवांकर हासिल कर लिया. उस मैच में अकेले केविन ओब्रायन ने 63 गेंदों पर 113 रन बनाए थे और आईसीसी वर्ल्ड कप (ICC World Cup) में आयरलैंड की जीत में सबसे बड़े हीरो साबित हुए.

इंटरनेशनल क्रिकेट को कहा अलविदा

OBrien

आयरलैंड के सबसे धाकड़ खिलाड़ी माने जाने वाले केविन ओब्रायन ने इंटरनैशनल क्रिकेट से संन्यास का ऐलान अपने ट्विटर हैंडल से किया है. 16 साल तक आयरलैंड की टीम में अपनी सेवाएं देने के बाद उन्होंने यह फैसला लिया है. अपने ट्विटर हैंडल से उन्होंने कहा कि आज मैं अपने देश के लिए 16 साल और 389 मैच के बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास की घोषणा करता हूं. मुझे ऑस्ट्रेलिया में टी-20 विश्वकप में अपना करियर खत्म करने की उम्मीद थी लेकिन पिछले साल के विश्वकप के बाद एक आयरिश टीम के लिए नहीं चुना गया. मुझे लगता है चयनकर्ता और प्रबंधन आगे बढ़ चुके हैं.

यह भी पढ़ें- Ian Chappell ने 45 साल के कमेंट्री करियर को कहा अलविदा, अब नहीं चढ़ सकते सीढियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *