एजबेस्टन में IND vs ENG का मैच नस्लवाद पर फंसा, भारतीयों को बनाया जा रहा निशाना!

IND vs ENG

भारत और इंग्लैंड (IND vs ENG) के बीच एजबेस्टन में चल रहा टेस्ट मुकाबला अब एक तरफा हो गया है जहां जॉनी बेयरस्टो और जो रूट की शतकीय साझेदारी ने इंग्लैंड को जीत के द्वार लाकर खड़ा कर दिया है. वही इस टेस्ट मैच के बीच नस्लवाद का मामला जोरों शोरों से सामने आने लगा है जिसे लेकर एक अलग ही चर्चा शुरू हो चुकी है. दरअसल इस मुकाबले (IND vs ENG) में पहले इंग्लैंड को शानदार शुरुआत मिली और ओपनिंग जोड़ी ने 107 रनों की पार्टनरशिप की और 2 रन के अंतर पर ही 3 विकेट झटक लिए चौथे दिन का खेल खत्म होने तक दोनों के बीच 150 रनों की साझेदारी हो चुकी है.

सोशल मीडिया पर मचा बवाल

IND vs ENG

भारत और इंग्लैंड (IND vs ENG) के बीच एजबेस्टन में चल रहे टेस्ट मुकाबले के बीच नस्लवाद का मामला सामने आया है जहां भारत के कुछ फैंस ने सोशल मीडिया के माध्यम से यह आरोप लगाया है कि टेस्ट मैच के चौथे दिन विपक्षी टीम के प्रशंसकों द्वारा भारतीय फैंस पर नस्लभेदी टिप्पणी की जा रही थी जहां सोशल मीडिया पर एक यूजर ने लिखा कि एरिक हाँलीज स्टैंड में भारत के प्रशंसकों को नस्लीय दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ रहा है. वहीं दूसरे युजर ने पोस्ट करते हुए बताया कि मुकाबले के दौरान घृणित नस्लवाद का सामना करना पड़ा.

मांगनी पड़ी माफी

IND vs ENG

भारत और इंग्लैंड (IND vs ENG) के बीच चल रहे टेस्ट मुकाबले के चौथे दिन सोशल मीडिया पर यूजर द्वारा नस्लवाद का मामला सामने आने पर ईसीबी ने जांच की बात कही है जहां लोगों का कहना है कि ऐसा दुर्व्यवहार हमने इस मुकाबले से पहले किसी भी मुकाबले में अनुभव नहीं किया था जिसके बाद एजबेस्टन के अधिकारियों ने माफी मांगी है और उन्होंने दिलासा दिया है कि वह जल्द से जल्द इस पूरे मामले की जांच करेंगे. खुद उन्होंने ट्वीट करके इस मामले पर खेद जताया है.

इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने भी तोड़ी चुप्पी

IND vs ENG

भारत और इंग्लैंड (IND vs ENG) के बीच चल रहे टेस्ट मुकाबले के दौरान नस्लवाद का सामना का मामला एक बहुत बड़ा विषय बन चुका है जिस पर अब इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने भी अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा है कि हम आज के मुकाबले में नसवादी दुर्व्यवहार की रिपोर्ट सुनकर चिंतित है. हम एजबेस्टन के अधिकारियों के संपर्क में है जो इस मामले की जांच करेंगे क्योंकि क्रिकेट में नस्लवाद के लिए कोई जगह नहीं है. देखा जाए तो सोशल मीडिया पर इस वक्त नस्लवाद को लेकर काफी लोग ट्वीट करते नजर आ रहे हैं जहां कई लोग इस मामले पर कड़ी कार्रवाई की मांग भी कर रहे हैं.

ये भी पढ़े- Dinesh Karthik की कप्तानी में भारत ने जीता पहला मुकाबला, इन खिलाड़ियों ने दिखाया तूफानी प्रदर्शन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *