IND vs PAK: वो खिलाड़ी जिन्होंने दोनों देशों के लिए खेला क्रिकेट, बंटवारे के बाद फिर चले गए हैं पाकिस्तान

IND vs PAK

IND vs PAK: वो खिलाड़ी जिन्होंने दोनों देशों के लिए खेला क्रिकेट, बंटवारे के बाद फिर चले गए हैं पाकिस्तान

आज हमारे देश को आजाद हुए 75 साल हो चुके हैं जहां पूरे भारतवासी आज आजादी के जश्न में डूबे हुए हैं और आजादी के 75 साल को अपने- अपने तरीके से एक त्यौहार की तरह बना रहे हैं. इसी मौके पर आज हम आपको भारत और पाकिस्तान (IND vs PAK) के बीच क्रिकेट मैच को लेकर एक बेहद ही खास और रोचक बात बताने जा रहे हैं. जहां आजादी से पहले कई ऐसे खिलाड़ी रहे जिन्होंने भारत और पाकिस्तान (IND vs PAK) दोनों देशों की तरफ से मैच खेला लेकिन जब देश का बंटवारा हुआ तो उन्हें हिंदुस्तान छोड़कर पाकिस्तान जाना पड़ा. लेकिन आज तक इन खिलाड़ियों की चर्चा होती रहती है जिनमें कई बड़े नाम भी शामिल है.

पाकिस्तान क्रिकेट के जनक है ये खिलाड़ी

Abdul Hafeez Kardar

15 अगस्त 1947 को भारत को आजादी मिली थी जिससे 1 दिन पहले 14 अगस्त को पाकिस्तान आजाद हुआ था जहां अब्दुल हफीज करदार जो पाकिस्तान क्रिकेट के जनक माने जाते हैं उन्हें बंटवारे के बाद पाकिस्तान जाना पड़ा जो पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पहले कप्तान रहे थे. उन्होंने भारत और पाकिस्तान (IND vs PAK) दोनों देशों के लिए मैच खेला है जहां बंटवारे से पहले भारत के लिए तीन टेस्ट मैच और पाकिस्तान के लिए 23 टेस्ट मैच खेले.

सबसे खास बात तो यह है कि उन्होंने पाकिस्तान के लिए अपना पहला टेस्ट मैच भारत (IND vs PAK) के खिलाफ ही खेला जहां अपनी कप्तानी में उन्होंने भारत को 1952 में लखनऊ टेस्ट मैच में हराया था जिसके बाद हमेशा से उनका नाम सुनहरे अक्षरों में लिखा जाता है.

अपने लेग ब्रेक के लिए फेमस था ये खिलाड़ी

Amir Elahi

आमिर इलाही का नाम भी उन खिलाड़ियों में आता है जिन्होंने भारत और पाकिस्तान (IND vs PAK) दोनों देशों की तरफ से क्रिकेट खेला है. देश के बंटवारे के बाद वह भी पाकिस्तान चले गए जहां आजादी से पहले 1947 में उन्होंने भारत के लिए अपना एकमात्र टेस्ट मैच खेला था. उनका क्रिकेट करियर ज्यादा लंबा नहीं चला और केवल छह टेस्ट मैचों में उन्होंने 7 विकेट लिए. वह अपने क्रिकेट करियर के दौरान लेग ब्रेक के लिए काफी फेमस रहे थे.

रणजी ट्रॉफी में आज भी इस खिलाड़ी को किया जाता याद

gull mohammed

गुल मोहम्मद क्रिकेट जगत में एक ऐसा नाम है जिन्होंने आजादी से पहले भारत के लिए क्रिकेट खेलते हुए अपना नाम बनाया था. आजादी से पहले उन्होंने भारत के लिए 8 टेस्ट मैच खेले जहां बंटवारे के बाद उन्हें पाकिस्तान के खिलाफ केवल 9 टेस्ट मैच खेलने का मौका मिला. गुल मोहम्मद को रणजी ट्राफी में विजय हजारे के साथ साझेदारी करने के लिए हमेशा याद किया जाता है.

यह भी पढ़ें- Asia Cup में बुमराह और हर्षल पटेल की चोट का फायदा उठाएंगे मोहम्मद शमी, टीम में मिलेगी जगह

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *