IND vs AUS: सीरीज जीतकर गदगद हुए रोहित, लेकिन भुनेश्वर पर है मेहरबान

IND vs AUS

IND vs AUS: सीरीज जीतकर गदगद हुए रोहित, लेकिन भुनेश्वर पर है मेहरबान

भारत और ऑस्ट्रेलिया (IND vs AUS) के बीच हुए 3 मैचों की टी-20 सीरीज में 2-1 से कब्जा करने के बाद टीम इंडिया जीत के जश्न में डूबी हुई है जहां भारत ने ऑस्ट्रेलिया को तीसरे टी-20 मुकाबले में 6 विकेट से हराया. टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने हैदराबाद में हुए इस मुकाबले को लेकर बेहद खास बात की और बताया कि यहां पर मैच जीतना एक अलग ही फीलिंग है क्योंकि यह मैदान हमेशा से हमारे लिए खास रहा है.

रोहित शर्मा (IND vs AUS) ने कहा कि ये टी-20 मैच है जहां पर हमें हर हाल में चांस लेना पड़ता है. वही डेथ ओवर में भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह की गेंदबाजी पर रोहित शर्मा ने कहा कि हम इन दोनों खिलाड़ियों को अभी कुछ और समय देना चाहते हैं.

आस्ट्रेलियाई कप्तान ने मानी अपनी गलती

भारत और ऑस्ट्रेलिया (IND vs AUS) के बीच हुए इस मुकाबले को हारने के बाद ऑस्ट्रेलियाई कप्तान एरोन फिंच ने कैमरून की पारी की जमकर तारीफ की और उन्होंने इस बात को माना कि मिडिल ऑर्डर में उनकी टीम ने कुछ कम रन बनाए. जिस तरह से ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने पारी की शुरुआत की थी अगर वह लय बरकरार रहता तो फिर मुकाबला कुछ और हो सकता था.

अक्षर पटेल बने प्लेयर ऑफ द सीरीज

इस सीरीज में अपनी गेंदबाजी से ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों को परेशान करने वाले अक्षर पटेल प्लेयर ऑफ द सीरीज बने. भारत और ऑस्ट्रेलिया (IND vs AUS) के बीच हुए मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी मैथ्यू वेड को एनर्जेटिक प्लेयर ऑफ द मैच का अवार्ड दिया गया. वही एनर्जेटिक प्लेयर ऑफ द सीरीज का खिताब विराट कोहली को दिया गया. टीम इंडिया के लिए धुआंधार पारी खेलने वाले सूर्यकुमार यादव को प्लेयर ऑफ द मैच का खिताब दिया गया जिन्होंने नंबर चार पर बल्लेबाजी करने को लेकर खुशी जाहिर की और बताया कि यह मेरा फेवरेट नंबर है.

काम आया कोहली का एक्सपीरियंस

भारत और ऑस्ट्रेलिया (IND vs AUS) के बीच हुए मुकाबले में जीत हासिल करने के बाद विराट कोहली ने कहा कि मेरा प्रदर्शन एक बहुत बड़ी वजह है कि मैं नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने आता हूं क्योंकि मुझे पता है कि मैं किस तरह अपने एक्सपीरियंस को यूटिलाइज कर सकता हूं. विराट कोहली ने कहा कि परिस्थिति के अनुसार जिस तरह सूर्यकुमार यादव शानदार फॉर्म में थे, मैंने ज्यादातर उन्हे स्ट्राइक देने की कोशिश की. कोहली ने बताया कि मैं बहुत बड़ा स्कोर बनाने के लिए नहीं लेकिन टीम में अपने कॉन्ट्रिब्यूशन के लिए हमेशा उत्साहित रहता हूं.

यह भी पढ़ें- IND vs AUS: भारत के सामने ऑस्ट्रेलिया ने टेके घुटने, सूर्या और कोहली बने हीरो