Sachin Tendulkar को अपने गेंद से घायल करना चाहते थे Shoaib Akhtar खुद किया बड़ा खुलासा

Sachin Tendulkar

मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) टीम इंडिया के एक ऐसे महान बल्लेबाज है जिन्हें आउट कर पाना हर गेंदबाज के नसीब में नहीं हुआ करता था लेकिन आज हम आपको रावलपिंडी एक्सप्रेस नाम से मशहूर शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) और सचिन तेंदुलकर को लेकर एक ऐसी घटना के बारे में बताएंगे जिसे सुनकर शायद आप भी चौंक जाएंगे क्योंकि खेल जगत में शायद ही कोई खिलाड़ी किसी के लिए इस तरह की भावना रखता होगा.

Shoaib Akhtar ने किया चौंकाने वाला खुलासा

Sachin Tendulkar

रावलपिंडी एक्सप्रेस नाम से मशहूर पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) ने कहा है कि वह बल्लेबाजों को गेंद करवाने से ज्यादा उन्हें जख्मी करने में विश्वास रखते थे. यही वजह है कि जब साल 2006 में भारतीय टीम मैच खेलने के लिए पाकिस्तान दौरे पर पहुंची थी तो उस वक्त भी शोएब अख्तर ने सचिन तेंदुलकर को चोटिल करने का इरादा बनाया था और उन्होंने ऐसा किया भी. मैदान पर शोएब अख्तर ने एक गेंद सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के हेलमेट पर मारी और उन्हें लगा कि तेंदुलकर के सिर पर चोट लगी है लेकिन तेंदुलकर ने अपना सिर बचा लिया था.

2006 की है घटना

Sachin Tendulkar

जब साल 2006 में इंडिया और पाकिस्तान के बीच टेस्ट सीरीज खेली गई थी तो उस वक्त शोएब अख्तर (Shoaib Akhtar) यह चाहते थे कि वह किसी भी कीमत पर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) को चोट पहुंचाए जिस वजह से टीम इंडिया कमजोर पड़ जाए. शोएब अख्तर के कप्तान हमेशा उनसे यह कहते थे कि गेंद को स्टंप टू स्टंप रखो लेकिन यहां तो शोएब अख्तर का इरादा ही कुछ और था जहां कराची में दोनों देशों के बीच चल रहे टेस्ट मैच में शोएब अख्तर ने यह ठान लिया था कि उस टेस्ट में किसी भी कीमत पर वह सचिन तेंदुलकर को घायल करके रहेंगे. इस वजह से उन्होंने काफी आक्रामक रवैया भी अपनाया था.

आगे भी नहीं रुके शोएब अख्तर

Sachin Tendulkar

अपने आक्रामक स्वभाव के लिए प्रसिद्ध शोएब अख्तर ने खुद बताया कि इस मैच के बाद भी वह सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) को लेकर अपना रवैया बदलने को तैयार नहीं थे उन्होंने इसके बाद भी सचिन. उन्होंने तेंदुलकर को चोट पहुंचाने का प्रयास जारी रखा. देखा जाए तो शोएब अख्तर एकमात्र ऐसे गेंदबाज होंगे जिनका मकसद बल्लेबाज को आउट करना नहीं बल्कि उन्हें घायल करना था.

ये भी पढ़े-  IND vs SA Series पर Avesh khan का दिखेगा कमाल, IPL में बल्लेबाजों के लिए बने थे कहर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *