बारिश नहीं बल्कि तेज धूप ने रोका WBBL का फाइनल मुकाबला, तीखे रोशनी में बल्लेबाजी करनी हुई मुश्किल

WBBL

बारिश नहीं बल्कि तेज धूप ने रोका WBBL का फाइनल मुकाबला, तीखे रोशनी में बल्लेबाजी करनी हुई मुश्किल

WBBL: क्रिकेट के मैदान पर कई बार कई वजह से ऐसी परिस्थिति उत्पन्न हो जाती है कि खेल को बीच में रोकना पड़ जाता है. अगर खेल बाद में शुरू होने जैसी परिस्थिति होती है तो इसे शुरू किया जाता है वरना मुकाबले को पूरी तरह रद्द कर दिया जाता है. इस वक्त क्रिकेट के मैदान पर बारिश की वजह से नहीं बल्कि सूरज की तेज रोशनी की वजह से मैच को रोका गया. यह नजारा पहली बार देखने को मिला जब खिलाड़ियों और अंपायर सभी को सूरज की तेज रोशनी से काफी परेशानी होने लगी. हालांकि कुछ देर बाद मुकाबले को पुनः शुरू किया गया.

तेज धूप से WBBL के फाइनल में खिलाड़ियों की आंखे चौंधियाई

इस तरह का नजारा डब्ल्यूबीबीएल (WBBL) के फाइनल में देखने को मिला. जब एडिलेड स्ट्राइकर्स और सिडनी सिक्सर्स के बीच मुकाबला हुआ. इस मुकाबले की पहली इनिंग तो सफलतापूर्वक खत्म हो गई लेकिन जब दूसरी इनिंग शुरू हुई तो सूरज की तीखी रोशनी सीधा सिडनी सिक्सर्स के बल्लेबाजों के आंखों पर पड़ रही थी जिस वजह से उन्हें खेलने में काफी परेशानी आ रही थी जिसके बाद अंपायर ने कुछ देर तक मैच रोकने का फैसला किया.

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो

इस वक्त सोशल मीडिया पर तेजी से यह वीडियो वायरल हो रहा है जिस पर लोग अपनी- अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं. दरअसल सिडनी सिक्सर्स के लिए बल्लेबाजी करने उतरी सूजी बेट्स की आंखों पर जब तेज धूप पड़ने लगी तो न्यूजीलैंड की बल्लेबाजों ने भी बाद में मैच रोकने का फैसला किया. दरअसल सबसे पहले तो दूर खड़े खिलाड़ियों को यह पता ही नहीं चला कि मैदान पर हुआ क्या है और खिलाड़ी किस बात का इंतजार कर रहे हैं जहां इस मुकाबले में एडिलेड स्ट्राइकर्स ने अपने बल्ले से खूब कमाल किया.

एडिलेड स्ट्राइकर्स ने खिताब पर किया कब्जा

एडिलेड स्ट्राइकर्स और सिडनी सिक्सर्स के बीच डब्ल्यूबीबीएल (WBBL) के फाइनल मुकाबले में बेहद ही रोचक नजारे देखने को मिले जहां पहली बार एडिलेड स्ट्राइकर्स ने डब्लूबीबीएल (WBBL) का खिताब अपने नाम किया है. इस मुकाबले में एडिलेड स्ट्राइकर्स ने सिडनी सिक्सर्स को 10 रन से हराते हुए खिताब पर कब्जा जमाया जो इस वक्त उनकी सबसे बड़ी उपलब्धि बन चुकी है.

यह भी पढ़ें- Sanju Samson: किसी खिलाड़ी को इतना नजरअंदाज करो कि उसकी हर उम्मीद टूट जाए