Team India वो 5 फ्लॉप ऑलराउंडर, जिनकी तुलना कभी कपिल देव से की गई

Team India

Team India वो 5 फ्लॉप ऑलराउंडर, जिनकी तुलना कभी कपिल देव से की गई

टीम इंडिया (Team India) को कई ऐसे खिलाड़ी मिले जिसने अपने खेल से पूरी दुनिया में अपना नाम रोशन किया जहां कई खिलाड़ी ऐसे भी हैं जिनकी मिसाल आज भी दी जाती है तभी तो कहा जाता है कि खेल के दम पर भी पूरी दुनिया को जीता जा सकता है. आज हम टीम इंडिया (Team India) के उन ऑलराउंडर की बात करेंगे जो भारत के लिए पिछले 10 सालों फ्लॉप शाबित हुए हैं, फिर भी उनकी तुलना कपिल देव जैसे महान खिलाड़ी से भी की जा चुकी है.

कपिल देव से जब फ्लॉप खिलाड़ियों की होती थी तुलना

लौड्स के मैदान पर टीम इंडिया (Team India) के लिए पहली बार विश्व कप जीतने वाले कपिल देव को आजीवन कोई नहीं भूल सकता. जब उन्होंने भारत को खिताब दिलाया था तब भारत ने खिताब का सपना भी नहीं देखा था. बतौर कप्तान ही नहीं बल्कि बतौर खिलाड़ी भी कपिल देव का करियर काफी शानदार रहा. एक वक्त था जब हर खिलाड़ी कपिल देव जैसा बनना चाहता था लेकिन कई मौके पर कपिल देव की तुलना ऐसे खिलाड़ियों से की गई जिनका करियर बुरी तरह से फ्लॉप रहा.

इन खिलाड़ियों का नाम शामिल

टीम इंडिया (Team India) में कई ऐसे ऑलराउंडर आए और चले गए जिनकी तुलना कभी कपिल देव से की गई थी. तमिलनाडु टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी विजय शंकर ने भारतीय टीम के लिए कई मुकाबले खेले लेकिन वह किसी भी मुकाबले में अपनी छाप नहीं छोड़ पाए. ना ही तो बल्लेबाजी में और गेंदबाजी में इनका कमाल नजर आया जिस वजह से वह सिलेक्टर्स का दिल नहीं खुश कर पाए और धीरे-धीरे टीम इंडिया (Team India) ने बाहर का रास्ता दिखा दिया.

वहीं इसके अलावा टीम इंडिया के लिए कई मौके पर शानदार प्रदर्शन करने वाले स्टुअर्ट बिन्नी का भी नाम उन खिलाड़ियों में आता है जिनकी तुलना कभी कपिल देव से की गई थी. जब भारत की ओर से उन्होंने गेंदबाजी करते हुए अनिल कुंबले का रिकॉर्ड तोड़ा था तो इसके बाद ही इनकी तुलना कपिल देव से की जाने लगी थी.

यह भी पढ़ें- Yuzvendra Chahal ने अफ्रीकी गेंदबाज तबरेज़ शम्सी को मारा जोरदार लात, वायरल हुआ वीडियो

गायब है अब ये खिलाड़ी

साल 2019 में टीम इंडिया (Team India) के लिए डेब्यू करने वाले शुभम दुबे अभी तक टीम में अपनी जगह पक्की नहीं कर पाए हैं. इस खिलाड़ी को अक्सर आईपीएल में ही खेलते हुए देखा जाता है. इस खिलाड़ी को वनडे में 12 मैच और टी20 इंटरनेशनल में 10 मैच खेलने का मौका मिला. लेकिन यह कुछ खास कमाल नहीं कर पाए.

अगर अन्य खिलाड़ी पर एक नजर डालें तो बाएं हाथ के बल्लेबाज वेंकटेश अय्यर जिन्हें भारत के लिए कई मौके पर खेलने के लिए शामिल किया गया पर इस खिलाड़ी ने भी पूरी तरह निराश किया. वही हार्दिक पांड्या के आने के बाद इस खिलाड़ी का पत्ता टीम से पूरी तरह कट चुका है. टीम इंडिया (Team India) के ऑलराउंडर के तौर पर माने जाने वाले ऋषि धवन ने साल 2016 में डेब्यू किया था जिन्हें कुछ खास मुकाबले तो खेलने को नहीं मिले लेकिन इनके प्रदर्शन से इनकी तुलना कपिल देव जैसे महान खिलाड़ी से की जाती थी.

यह भी पढ़ें- IND vs SA: सीरीज जीतकर आलोचकों को दिया करारा जवाब, मैच के हीरो भी बने