Team India की इस गलती ने पलटा मैच का रुख, पहले भी हो चूका है ऐसा लेकिन सुधारना नही है

Team India

Team India की इस गलती ने पलटा मैच का रुख, पहले भी हो चूका है ऐसा लेकिन सुधारना नही है

ऑस्ट्रेलिया के हाथों टीम इंडिया (Team India) के तीन मैचों की टी-20 सीरीज के पहले मुकाबले में 4 विकेट से हार का सामना करना पड़ा जिस मुकाबले में टीम इंडिया की कई बड़ी गलतियां नजर आई जिस वजह से यह मुकाबला उनके हाथ से निकल गया और 208 रन जैसे बड़े स्कोर को टीम इंडिया (Team India) नहीं डिफेंड कर पाई जहां टीम इंडिया की हार के बहुत से कारण रहे जिस वजह से यह मुकाबला ऑस्ट्रेलिया की झोली में चला गया. अगर आगे भारत ने इन गलतियों पर काम नहीं किया तो फिर टी-20 वर्ल्ड कप में यह गलती भारी पड़ सकती है.

Team India की रही खराब फील्डिंग

इस मुकाबले में टीम इंडिया (Team India) की सबसे बड़ी हार की वजह खराब फील्डिंग रही जहां तीन बार अहम कैच छोड़े गए. सबसे पहले अक्षर पटेल ने हार्दिक पांड्या की गेंद पर कैमरून ग्रीन का एक अहम कैच छोड़ा. उसके बाद इसी गलती को दोहराते हुए केएल राहुल ने अक्षर पटेल की गेंद पर एक बार फिर कैमरून ग्रीन का कैच छोड़ा जहां इस खिलाड़ी ने इसका फायदा उठाते हुए टीम इंडिया के गेंदबाजों की छुट्टी कर दी. वहीं इस मुकाबले में हर्षल पटेल ने भी अपनी गेंदबाजी के दौरान एक अहम कैच छोड़ा है जहां इन्ही बड़ी गलतियों की वजह से टीम इंडिया को यह हार भुगतनी पड़ी.

यह भी पढ़ें- दुनिया के पांच खिलाड़ी जिन्होंने T20 World Cup में बनाएं सबसे ज्यादा रन

भुनेश्वर कुमार से फिर करवाया 19वां ओवर

एशिया कप की गलती को दोहराते हुए एक बार फिर टीम इंडिया (Team India) के कप्तान रोहित शर्मा ने भुवनेश्वर कुमार को 19वां ओवर करने का मौका दिया और उनकी रणनीति फेल हुई. भुवनेश्वर कुमार के इस ओवर में 16 रनों की बरसात कर दी और यह मुकाबला पूरी तरह ऑस्ट्रेलिया के पक्ष में चला गया. देखा जाए तो पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ भी रोहित शर्मा यह गलती कर चुके हैं. इसके बावजूद उन्होंने अपनी गलतियों को सुधारने के बजाय इसे दोहराया.

यह भी पढ़ें- Rohit Sharma का एक्सपेरिमेंट भारतीय टीम पर पड़ रहा भारी, ये कब करेंगे बंद

इस खिलाड़ी ने लगाई सबकी क्लास

कैंमरून ग्रीन के आउट होने के बाद ऐसा लग रहा था कि अब ऑस्ट्रेलिया की टीम हाथ में आ जाएगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ. ऑस्ट्रेलिया के विकेटकीपर बल्लेबाज मैथ्यू वेड ने अंतिम ओवर में 21 गेंदों पर छह चौके और दो छक्के लगाकर 45 रन की तूफानी पारी खेली और पूरा मुकाबला बदल दिया जहां इस मुकाबले में कोई भी भारतीय गेंदबाज मैथ्यू वेड को अपनी गेंदबाजी से परेशान नहीं कर पाए जिस वजह से उन्होंने बल्ला खोलकर रन बनाया और यही नतीजा है कि आखिरी के 5 ओवर में टीम इंडिया (Team India) वापसी नहीं कर पाई.

यह भी पढ़ें- Team India फैंस पर थोप रहा है मैच, BCCI और सेलेक्टर्स को हार-जीत से नहीं पड़ रहा फर्क