Team India के खिलाड़ी खेलने से ज्यादा बाहर बिताते हैं समय, थकान बनी मुश्किल

IND vs ZIM

टीम इंडिया (Team India) के कई खिलाड़ी ऐसे हैं जो पूरे साल खेलने से ज्यादा या तो कभी चोटिल होकर या कभी ब्रेक लेकर टीम से बाहर रहते हैं. ऐसे में टीम इंडिया (Team India)के खिलाड़ियों के लिए उनकी थकान एक बहुत बड़ी मुसीबत बन चुकी है. अगर पिछले कुछ सालों का आंकड़ा उठाकर देखा जाए तो क्रिकेट मैचों की संख्या में काफी इजाफा हुआ है जिससे खिलाड़ी खुद को मानसिक एवं शारीरिक रूप से स्वस्थ नहीं महसूस करते हैं. कई लोगों का तो यह भी मानना है कि खिलाड़ी कार नहीं है कि आप उनके अंदर ईंधन भर ले और जहां कहेंगे वहां वो खेलने चले जाएंगे.

क्रिकेट मैचों की संख्या में हुआ है इजाफा

Team India

अगर साउथ अफ्रीका सीरीज से देखा जाए तो भारत ने साउथ अफ्रीका दौरे पर तीन मैचों की टेस्ट सीरीज का आखिरी दो मैच खेलने के अलावा तीन वनडे मुकाबले में भी हिस्सा लिया जिससे लौटने के बाद भारतीय खिलाड़ियों को लगभग 10 दिन आराम मिला जिसके तुरंत बाद टीम इंडिया के खिलाड़ी वेस्टइंडीज और श्रीलंका के खिलाफ टी-20 और टेस्ट मैच खेलने में व्यस्त हो गए और अब टीम इंडिया (Team India) को वेस्टइंडीज के साथ मुकाबला खेलना है जिसके कुछ महीने बाद T20 वर्ल्ड कप की टेंशन उनके सिर पर आ जाएगी.

आईपीएल ने खिलाड़ियों को कर दिया परेशान

Team India

दरअसल 2 महीने तक चलने वाला आईपीएल टीम इंडिया (Team India) के लिए कई मायने में एक बहुत बड़ी थकान की वजह बन जाता है क्योंकि इसके बाद खिलाड़ियों को आराम नहीं मिलता और फिर कई देशों के दौरा करने के वक्त वह थका हुआ महसूस करते हैं. 2 महीने के आईपीएल के बाद टीम इंडिया (Team India) के खिलाड़ी को तुरंत इंग्लैंड दौरे पर निकलना पड़ा जहां पर उन्हें एक टेस्ट, तीन टी-20 और तीन वनडे मुकाबले खेलने पड़े

जहां इंग्लैंड दौरे की समाप्ति के बाद टीम इंडिया को वेस्टइंडीज के साथ तीन वनडे और 5 टी-20 मैचों की सीरीज खेलनी है जिसके तुरंत बाद भारत को जिंबाब्वे भी पहुंचना है और फिर इसके एक हफ्ते बाद एशिया कप की तैयारी शुरू हो जाएगी.

इस साल के अंत में होने हैं टी-20 वर्ल्ड कप

Team India

टीम इंडिया (Team India) जितनी भी सीरीज खेल रही है वह आने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के लिहाज से काफी अहम माना जा रहा है लेकिन यह भी सच है कि एशिया कप के खत्म होने के बाद टीम इंडिया (Team India) के खिलाड़ियों को चैन नहीं मिलने वाला है क्योंकि सितंबर में ऑस्ट्रेलियाई टीम तीन मैचों की टी-20 सीरीज के लिए भारत का दौरा करेगी और फिर भारतीय खिलाड़ी टी-20 वर्ल्ड कप के लिए अपने आपको तैयार करने में जुट जाएंगे.

ऐसे में देखा जाए तो टीम इंडिया का साल 2022 का शेड्यूल पूरी तरह बिजी है. ऐसे में कई खिलाड़ी जो चोट की वजह से बाहर हो जाते हैं तो ऐसी परिस्थिति में टीम इंडिया (Team India) को काफी मुश्किल होती है.

यह भी पढ़ें-  Ind vs Wi: भारतीय टीम इस धाकड़ बल्लेबाज के करियर का फैसला होगा वेस्टइंडीज दौरे पर!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *