Waqar Younis को है इस बात का दुख, नहीं थे 92 विश्वकप टीम का हिस्सा

Waqar Younis Regret

वकार यूनिस (Waqar Younis) अपनी रिवर्स स्विंग के लिए पूरे क्रिकेट जगत में जाने जाते हैं। उन्होंने अपनी गेंदबाजीं से पाकिस्तान टीम को कई मैच जिताएं हैं। पर वकार यूनिस को अपनी जिंदगी में एक मलाल है जिसका खुलासा उन्होंने अब किया है। वकार ने कहा कि मुझे दुख होता है कि मैं 1992 की पाकिस्तान की विश्वकप विजेता टीम का हिस्सा नहीं था। यह एक बहुत बड़ा लम्हा था जिसे मैंने मिस कर दिया है।

Waqar younis

92 की विश्वकप विजेता टीम का हिस्सा नहीं होने पर दुख होता है

वकार यूनिस (Waqar Younis) ने कहा कि मुझे इस बात का दुख होता है कि 1992 विश्वकप विजेता पाकिस्तान टीम का हिस्सा नहीं था। पर मैं अपने साथी खिलाड़ियों और दोस्तों के लिए बेहद खुश था। मुझे अच्छे से याद है कि जब वह विश्वकप जीत कर वापिस आए थे। उस समय एयरपोर्ट के साथ ना तो कोई टनल्स होते थे और ना ही सीढ़ियां लगी होती थी। एयरप्लेन के गेट के बाहर बड़ी लाइटे लगाई हुई होती थी।

विश्वकप ट्रॉफी देखकर हैरान रह गए थे

Waqar younis2

वकार यूनिसन (Waqar Younis) ने आगे कहा कि जब एयरप्लेन के दवराजे खुले तो सबसे पहले मेरा ध्यान चमचमाती हुई ट्रॉफी पर गया। क्योंकि मैं पहली लाइन में खड़ा हुआ था। सच में जब खिलाड़ी एयरप्लेन से बाहर आए तो मेरी आत्मा कहीं चली गई और घुटनों के बल पर बैठकर रोने लगा। मैं उस समय बहुत भावुक हो गया था पर मैं खुश भी था। मेरी टीम के साथियों ने मुझे बुलाया और हम सभी ने फिर एक साथ जश्न मनाया।

Waqar के नाम हैं 750 से ज्यादा विकेट

Waqar younis1

पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज वकार यूनिस (Waqar Younis) ने साल 1989 में अपना डेब्यू किया था। उन्होंने पाकिस्तान के लिए 87 टेस्ट और 262 वनडे मैच खेल हैं। वकार और वसीम अकरम की जोड़ी बल्लेबाजों पर कहर बनकर टूटती थी। टेस्ट और वनडे फॉर्मट मिलाकर वकार यूनिस के नाम क्रिकेट में 750 से ज्यादा विकेट हैं और पाकिस्तान के महान गेंदबाजों में शुमार हैं।

ये भी पढ़े- Rajat Patidar ने लखनऊ खिलाफ बनाया बड़ा रिकार्ड, ऐसा करने वाले पहले अनकैप्ड बल्लेबाज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *